Let her …….. 🙋🏻

When she takes time to select a dish from the menu, let her. Every day, for every meal she has prepared she has given her time to think about what to make, how much, and for whom.
When she takes time to dress up to go out with you, let her. She has given her time to make sure that your ironed clothes are in their place and knows better than you,where your socks are. She has dressed up her child thoughtfully, to look like the most smartly dressed up child around.
When she takes time to watch TV mindlessly, let her. She is only half concentrating and has a clock ticking in her head. As soon as it’s nearing dinner time, you’ll see her disappear to get things ready.
When she takes time to serve you breakfast, let her. She has kept aside the burnt toast for herself and is taking the time to serve her family the nicest ones she could manage.
When she takes time after her tea to just sit by the window and stare into nothingness, let her. It’s her life, she’s given you countless hours of her life..Let her take a few minutes for herself.
She’s rushing through her life, giving chunks of her time whenever needed, wherever needed. Don’t rush her more than she rushes herself.dont push her harder than she pushes herself.
Hats off to all you lovely women❤

Advertisements

Socio-Economic classification simplified 🤣😂🤣😂🤣😅

Lower class – Biskut

Middle class – Biskit

Upper class – Cookies

Lower class – Roomal

Middle class – Hankie

Upper class – Kerchief

Lower class – tamaatar

Middle class – Ta’may’to

Upper class – Toh’mah’toh

Lower class – Sauce

Middle class – Ketchup

Upper Class – Toh’mah’toh dip

Lower class – Lifafa

Middle class – En’ve’lope

Upper class – On’vo’lup

Lower class – Nimbu Paani/Shikanji

Middle class – Lemonade

Upper class –  Virgin Mojito

Lower class – Jean pyant

Middle class – Jeans

Upper class – Denims

Lower class – Chasma

Middle class – Goggles

Upper class – Shades

Lower class – chaddi

Middle class – underwear

Upper class – lawn-juh-Ray

Lower class : Do cutting chai leke aa bé Pintu.

Middle class : Can I have two cups of tea.

Upper class : May I have two chai lattes please. Regular.

Lower class:🤣🤣😂😂

Middle class:😀😃😄😁

Upper class:😊😊🙂🙂

What’s​ the size of God?

A boy asked the father: 
What’s the size of God?

Then the father looked up to the sky and seeing an airplane asked the son:

What’s the size of that airplane? 

The boy answered: It’s very small. I can barely see it. 
So the father took him to the airport and as they approached an airplane he asked: 
And now, what is the size of this one? 
The boy answered: Wow daddy, this is huge! 

Then the father told him: God, is like this, His size depends on the distance between you and Him.
The closer you are to Him, the greater He will be in your life!

🙏🙏🙏

बैंक के नियम ….. 

शाम के 5 बजे
बैंक बंद हो ही 
रहा था कि

..

ब्रांच मैनेजर के पास 
बेहद दिलकश
और 
शहद सी मीठी
आवाज में 
एक महिला का फोन 
आया–  
“सर, मुझे 2 लाख रुपयों
की तुरंत आवश्यकता है 
और मैं सिर्फ
10 मिनिट में
बैंक पहुँच जाऊँगी। 
क्या आप मेरा 

इन्तजार कर सकते हैं?”
उसकी आवाज 
इतनी सुरीली थी,
कि मैनेजर 
मना नहीं कर सका।

.

.

उसने कैशियर से 
कहा कि कैश रेडी रखे।
कैशियर ने 
भुनभुनाते हुए 
अपने बॉस का 
ऑर्डर माना।

.

थोड़ी ही देर बाद 
बढ़ी हुई तोंद
और 
अजीबोगरीब फिगर
वाली महिला ने 
बैंक में प्रवेश किया

.

और बैंक मैनेजर को 
एक चैक देकर 
कैश की 
डिमाण्ड की।
मैनेजर जो एक 
बहुत खूबसूरत महिला
की अपेक्षा कर रहा था, 
ने उस महिला को देख 
तुरंत अपना इरादा बदल दिया।
और कहा—
“देखिए मैडम,
आज का 
कैश क्लोज
हो चुका है; 
आप कल आइए।”
कैशियर जो रेडी था,
ने मैनेजर से पूछा—
“अगर महिला को 
कैश नहीं देना था 
तो हमने
इन्तजार क्यूँ किया ??”
मैनेजर— 
“देख भाई,
मैं उसकी हैल्प
तो करना चाहता था 
लेकिन, 
ये बैंकिंग का 
अंतर्राष्ट्रीय नियम
है कि—

.

If Words & Figures
Don’t Match,
Payment Will Be
Declined.”
😜😝😂😃

🚶🏻‍♀️Walking 🚶🏻

“Walking” is the best exercise…!

 ‘Walk Away’ from arguments that lead you to nowhere but anger. 
“Walk Away’ from people who deliberately put you down.

 ‘Walk Away’ from any thought that reduces your worth. 

“Walk Away’ from failures and fears that stiffle your dreams. 

The more you ‘Walk Away’ from things that poison your soul, the happier your life would be. 

Gift Yourself A Walk Towards Happiness. 

गार्ड 😊🙋🏻‍♂️

Positive attitude
एक घर के पास काफी दिन से एक बड़ी इमारत का काम चल रहा था। 

वहां रोज मजदूरों के छोटे-छोटे बच्चे एक दूसरे की शर्ट पकडकर रेल-रेल का खेल खेलते थे।
रोज कोई बच्चा इंजिन बनता और बाकी बच्चे डिब्बे बनते थे…
इंजिन और डिब्बे वाले बच्चे रोज बदल जाते,

पर…
केवल चङ्ङी पहना एक छोटा बच्चा हाथ में रखा कपड़ा घुमाते हुए रोज गार्ड बनता था।
एक दिन मैंने देखा कि …
उन बच्चों को खेलते हुए रोज़ देखने वाले एक व्यक्ति ने कौतुहल से गार्ड बनने वाले बच्चे को पास बुलाकर पूछा….
“बच्चे, तुम रोज़ गार्ड बनते हो। तुम्हें कभी इंजिन, कभी डिब्बा बनने की इच्छा नहीं होती?”
इस पर वो बच्चा बोला…

“बाबूजी, मेरे पास पहनने के लिए कोई शर्ट नहीं है। तो मेरे पीछे वाले बच्चे मुझे कैसे पकड़ेंगे… और मेरे पीछे कौन खड़ा रहेगा….?

इसीलिए मैं रोज गार्ड बनकर ही खेल में हिस्सा लेता हूँ।
“ये बोलते समय मुझे उसकी आँखों में पानी दिखाई दिया।

आज वो बच्चा मुझे जीवन का एक बड़ा पाठ पढ़ा गया…
अपना जीवन कभी भी परिपूर्ण नहीं होता। उसमें कोई न कोई कमी जरुर रहेगी….
वो बच्चा माँ-बाप से ग़ुस्सा होकर रोते हुए बैठ सकता था। परन्तु ऐसा न करते हुए उसने परिस्थितियों का समाधान ढूंढा।
हम कितना रोते हैं?

कभी अपने साँवले रंग के लिए, 

कभी छोटे क़द के लिए, 

कभी पड़ौसी की बडी कार,

कभी पड़ोसन के गले का हार

कभी अपने कम मार्क्स,

कभी अंग्रेज़ी,

कभी पर्सनालिटी

कभी नौकरी की मार तो 

कभी धंदे में मार

हमें इससे बाहर आना पड़ता है….

ये जीवन है… इसे ऐसे ही जीना पड़ता है।

 चील की ऊँची उड़ान देखकर चिड़िया कभी डिप्रेशन में नहीं आती,

वो अपने आस्तित्व में मस्त रहती है,

मगर इंसान, इंसान की ऊँची उड़ान देखकर बहुत जल्दी चिंता में आ जाते हैं।

तुलना से बचें और खुश रहें ।

ना किसी से ईर्ष्या, ना किसी से कोई होड़..!!!

मेरी अपनी हैं मंजिलें, मेरी अपनी दौड़..!!!

            

“परिस्थितियां कभी समस्या नहीं बनती,

समस्या इस लिए बनती है, क्योंकि हमें उन परिस्थितियों से लड़ना नहीं आता।”

                

 “सदा मुस्कुराते रहिये”
उम्र ही ज़ाया कर दी लोगों ने मेरे वजूद में नुक़्स निकालते निकालते….
इतना तो खुद को यदि तराशा होता तो कबके वो फ़रिश्ते बन जाते..

कौन 🤷🏻‍♂️

मैं रूठा ,
      तुम भी रूठ गए

                     फिर मनाएगा कौन ?
आज दरार है ,

           कल खाई होगी 

                         फिर भरेगा कौन ?
मैं चुप ,

     तुम भी चुप 

          इस चुप्पी को फिर तोडे़गा कौन ?
छोटी बात को लगा लोगे दिल से , 

               तो रिश्ता फिर निभाएगा कौन ?
दुखी मैं भी और तुम भी बिछड़कर , 

                सोचो हाथ फिर बढ़ाएगा कौन ?
न मैं राजी ,

       न तुम राजी , 

           फिर माफ़ करने का बड़प्पन

                                       दिखाएगा कौन ?
डूब जाएगा यादों में दिल कभी , 

                     तो फिर धैर्य बंधायेगा कौन ?
एक अहम् मेरे ,

       एक तेरे भीतर भी , 

               इस अहम् को फिर हराएगा कौन ?
ज़िंदगी किसको मिली है सदा के लिए ?

           फिर इन लम्हों में अकेला

                                  रह जाएगा कौन ?
मूंद ली दोनों में से गर किसी दिन

        एक ने आँखें….

           तो कल इस बात पर फिर

                                      पछतायेगा कौन ? 
Respect Each Other

                Ignore Mistakes

                                     Avoid Ego